प्रदर्शनकारी छात्रों के बीच पहुंचीं जामिया की वीसी, कहा- अपनी बात मुझसे न कहलवाएं

प्रदर्शनकारी छात्रों के बीच पहुंचीं जामिया की वीसी, कहा- अपनी बात मुझसे न कहलवाएं

15 दिसंबर को जामिया में हुई हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों के बीच वाइस चांसलर पहुंची हैं। वह छात्रों के सवालों के जवाब दे रही हैं। वीसी नजमा अख्तर ने कहा कि हमने सरकार से आपत्ति दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि हमने एफआईआर दर्ज कराई है लेकिन पुलिस ने रिसीव नहीं की।
छात्रों की मांग पर वीसी ने कहा कि हम तुरंत सभी परीक्षा रद्द करते हैं। अब आप अपने डीन से मिलकर जो भी तारीख तय करनी हो, तय कर लें। छात्रों ने वीसी के सामने अपनी मांग रखी- जल्द परीक्षा रोकें, पुलिस के खिलाफ जल्द एफआईआर दर्ज कराएं, हमें सुरक्षा दें, प्रॉक्टर साहब नहीं देंगे। मांग रखते हुए छात्रों ने प्रॉक्टर पर भी कई आरोप लगाए। छात्रों का आरोप है कि प्रॉक्टर उनसे सही तरीके से बात नहीं करते और पैसे के लिए प्रदर्शन करने वाला कहते हैं।
वीसी की बात सुनने के बाद छात्रों ने कहा कि जब पुलिस पर एफआईआर दर्ज हो जाएगी तो हम हम कक्षाओं में लौट आएंगे। इसके बाद वीसी ने फिर से छात्रों से बात शुरू की। उन्होंने कहा कि हमने आपकी बात मानी, जल्द क्लास शुरू की। परीक्षा शुरू की, अब आप लोग प्रदर्शन कर रहे हैं।
वीसी ने ये भी बताया कि एफआईआर की कार्रवाई कल से शुरू हो जाएगी। एफआईआर दर्ज नहीं हुई तो हम कोर्ट जाएंगे। जब छात्रों ने हॉस्टल खाली करने के आदेश के बारे में पूछा गया तो वह बोलीं कि मैंने ऐसा कोई आदेश नहीं दिया था, तो छात्र झूठ-झूठ चिल्लाने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Right Click Disabled!