HSPCB ने PNG यूज नहीं करने वाली 1200 इंडस्ट्रियों को बंद करने का दिया आदेश

HSPCB ने PNG यूज नहीं करने वाली 1200 इंडस्ट्रियों को बंद करने का दिया आदेश

केंद्रीय पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड ने अपने आदेश में सख्ती से कहा है कि किसी भी इंडस्ट्री में पीएनजी के अलावा अन्य ईंधन प्रयाेग न करने दिया जाए.

रियाणा स्टेट पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (एचएसपीसीबी) ने पानीपत की बॉयलर यूज करने वाली 1200 इंडस्ट्रियाें काे पाइप्ड प्राकृतिक गैस (पीएनजी) प्रयाेग नहीं करने पर 15 दिन में बंद कराने का आदेश जारी किया है. इसकी वजह से करीब 15 हजार करोड़ का काराेबार प्रभावित हो जाएगा. बता दें कि इससे पहले एनजीटी (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल) ने कई बार आदेश दिए, पर इंडस्ट्री ने बात नहीं मानी.

पीएनजी लेने का आदेश

इधर, उद्योगपतियों ने सरकार से मांग की है ‌कि उन्हें पीएनजी पर सब्सिडी दी जाए और पीएनजी लेने की समय सीमा भी बढ़ाई जाए. पानीपत में करीब 1200 ऐसी इंडस्ट्री हैं, जिनमें बाॅयलर प्रयाेग किया जाता है. वहीं केंद्रीय पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड के आदेश के बाद शुक्रवार काे एचएसपीसीबी ने औद्याेगिक इकाइयों को पीएनजी लेने का आदेश जारी किया है.

इंडस्ट्री में पीएनजी के अलावा अन्य ईंधन प्रयाेग करने पर सख्ती

केंद्रीय पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड ने अपने आदेश में सख्ती से कहा है कि किसी भी इंडस्ट्री में पीएनजी के अलावा अन्य ईंधन प्रयाेग न करने दिया जाए. एचएसपीसीबी ने इस संबंध में सभी रीजनल ऑफिसर को नोटिफिकेशन जारी कर 15 दिन में उद्याेगाें पर कार्रवाई कर रिपाेर्ट पेश करने का आदेश दिया है.

वहीं सेक्टर- 29 पार्ट टू डायर्स एसोसिएशन के प्रधान भीम सिंह राणा ने प्रतिनिधि मंडल के साथ ग्रामीण हलका विधायक महीपाल ढांडा और शहरी विधायक राेहिता रेवड़ी से मुलाकात की. उन्होंने बताया कि एनसीआर के दायरे में आने के बाद पानीपत की इंडस्ट्री बर्बाद हाेती जा रही है.

Admin

Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.