थलसेना प्रमुख ने अग्रिम चौकियों पर जाकर जवानों से कहा पाकिस्तान के हर दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब दें

थलसेना प्रमुख ने अग्रिम चौकियों पर जाकर जवानों से कहा पाकिस्तान के हर दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब दें

श्रीनगर
पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा पर भारतीय ठिकानों पर की जा रही गोलाबारी और गुलमर्ग सब सेक्टर में गत दिनों हुए घुसपैठ के एक बड़े प्रयास से उपजी स्थिति का जायजा लेने शुक्रवार को थलसेना प्रमुख जनरल विपिन रावत श्रीनगर पहुंचे। उन्होंने उत्तरी कश्मीर में दो अग्रिम चौकियों पर जाकर वहां तैनात जवानों व अधिकारियों के साथ मुलाकात कर उनसे हालात की जानकारी भी ली। रावत ने सभी फील्ड कमांडरों को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार रहने को कहा। साथ ही पाकिस्तान के संघर्ष विराम उल्लंघन और घुसपैठ का मुहंतोड़ जवाब देने का निर्देश देते हुए कहा कि सजगता और जवाबी कार्रवाई में कोई कोताही न हो।
जम्मू कश्मीर की संवैधानिक स्थिति में बदलाव किए जाने के बाद जनरल रावत का जम्मू कश्मीर का यह पहला दौरा है। वह सुबह दिल्ली से एक विशेष विमान में श्रीनगर के टेक्निकल एयरपोर्ट पर पहुंचे। वहां से वह हेलीकॉप्टर में बादामीबाग स्थित सेना की 15वीं कोर के मुख्यालय में पहुंचे। रावत शनिवार को दिल्ली लौटेंगे। 15 कोर मुख्यालय में जनरल रावत ने उत्तरी कमान प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह, चिनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लो व अन्य प्रमुख सैन्य कमांडरों के साथ बैठक की। इसमें उन्होंने जम्मू कश्मीर के आंतरिक और बाहरी सुरक्षा परिदृश्य पर विस्तार से विचार विमर्श किया। बैठक में मौजूद सैन्य कमांडरों ने जनरल रावत को एलओसी पार पाकिस्तानी सेना द्वारा की जा रही तैयारियों, पाकिस्तानी सेना की निगरानी में चलने वाले आतंकी लांचिग पैड की ताजा स्थिति और बीते कुछ दिनों से लगातार हो रही घुसपैठ की कोशिशों के बारे में विस्तार से बताया।
जनरल रावत ने उत्तरी कश्मीर में एलओसी पर स्थित विभिन्न इलाकों का हवाई दौरा भी किया। इस दौरान उन्होंने दो चौकियों के पास उतरकर वहां तैनात जवानों व अधिकारियों के साथ भी विचार विमर्श किया। उन्होंने जवानों व अधिकारियों को दुश्मन के हर नापाक इरादे को नाकाम बनाने के लिए प्रेरित करते हुए उनकी कर्तव्यनिष्ठा, राष्टभक्ति को सराहा। उन्होंने कहा कि पूरा देश सरहदों पर तैनात सैनिकों के साथ एक मजबूत दिवार की तरह खड़ा है। यहां यह बताना असंगत नहीं होगा कि गत दिनों उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग सब-सेक्टर में घुसपैठ का एक बड़ा प्रयास हुआ था। दो दिन पहले गुरेज सेक्टर में पाकिस्तानी सेना के बैट दस्ते ने भी हमला किया था, लेकिन सतर्क जवानों ने पाकिस्तानी सेना के सभी मंसूबों को नाकाम बना दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Right Click Disabled!